विकास के आधार पर संसाधन के कितने प्रकार होते हैं ? - संभाव्य संसाधन , वास्तविक संसाधन ।

विकास के आधार पर संसाधन के कितने प्रकार होते हैं ? - संभाव्य संसाधन , वास्तविक संसाधन । 

हेलो दोस्तों इस ब्लॉग पोस्ट में हम लोग जानेंगे की विकास के आधार पर संसाधनों के प्रकार। तो इस ब्लॉग पोस्ट में आप बने रहिए ताकि आपको विकास के आधार पर संसाधन के कितने प्रकार होते हैं के बारे में जानकारी मिल सके।

विकास के आधार पर संसाधन को मुख्यता दो भागों में बांटा गया है जो निम्नलिखित है -

1. संभाव्य संसाधन
2. वास्तविक संसाधन

1. संभाव्य संसाधन क्या है ? संभाव्य संसाधन किसे कहते हैं ?संभाव्य संसाधन का परिभाषा क्या है?

संभाव्य संसाधन - संभाव्य संसाधन वह है जिसकी अभी तक कोई जानकारी नहीं है। साधारण शब्दों में हम कर सकते हैं वैसे संसाधन जिनका अभी तक जानकारी नहीं है लेकिन उसे भविष्य में इस्तेमाल किया जा सकता है।
            दूसरे शब्दों में हम कर सकते हैं की ऐसे संसाधन जिसकी पृथ्वी में होने की संभावना है लेकिन अभी तक इसका इस्तेमाल नहीं किया गया है । जैसे लद्दाख में पाए जाने वाले यूरेनियम और केरल में पाए जाने वाले मोनाजाइट इसके कुछ उदाहरण है।

मृदा क्या है तथा इसके प्रकार 

2. वास्तविक संसाधन क्या है ? वास्तविक संसाधन किसे कहते हैं ?वास्तविक संसाधन का परिभाषा क्या है?

वास्तविक संसाधन - वास्तविक संसाधन उसे कहते हैं जिस संसाधन का पृथ्वी में होने की जानकारी है तथा उसका वर्तमान काल में इस्तेमाल भी किया जा रहा है।
दूसरे शब्दों में हम कर सकते हैं कि पृथ्वी में पाए जाने वाले ऐसे संसाधन जिसका अभी इस्तेमाल किया जा रहा है वह वास्तविक संसाधन कहलाता है। जैसे खनिज तेल, काली मिट्टी , कोयला बॉक्साइट आदि के कुछ उदाहरण है।

उपर्युक्त लिखे गए बातों को आप पढ़ कर दिया समझ गए होंगे कि विकास के आधार पर संसाधनों को कितने भागों में बांटा गया है। विकास के आधार पर संसाधन को दो भागों में बांटा गया है वह  संभाव्य संसाधन एवं वास्तविक संसाधन है

हमारी या छोटी सी जानकारी आपको अच्छी लगी तो आप इसे जरूर अधिक से अधिक लोगों के पास शेयर करें ताकि विकास के आधार पर संसाधनों को कितने भागों में बांटा गया है के बारे में जानकारी मिल सके तथा कॉमेंट कंपनी राय जरूर दें।

एक टिप्पणी भेजें (0)
और नया पुराने