वर्ण किसे कहते है ? । वर्ण की परिभाषा । वर्णमाला किसे कहते है । हिन्दी व्याकरण ।

 वर्ण किसे कहते है ?। वर्ण की परिभाषा । वर्णमाला किसे कहते है ? हिन्दी व्याकरण ।

हेलो दोस्तों आपका इस पोस्ट , वर्ण किसे कहते है ? वर्णमाला किसे कहते है  में स्वागत है हम जाएंगे कि वर्ण किसे कहते है   ? वर्णमाला किसे कहते है  बहुत सारे लोग यह जानते भी होंगे पर जो नहीं जानते हैं कि वर्ण किसे कहते है ? वर्णमाला किसे कहते है  वह अवश्य इस पोस्ट को पूरा पढ़ें ताकि आपको वर्ण किसे कहते है ? वर्णमाला किसे कहते है  ?की संपूर्ण जानकारी मिल सके।

वर्णमाला सीखने से पहले हमें यह जानना बहुत जरूरी है कि वर्ण किसे कहते है ? तो चलिए जानते हैं वर्ण क्या है या वर्ण किसे कहते है ?

वर्ण किसे कहते हैं ? या वर्ण की परिभाषा 

भाषा की सबसे छोटी इकाई को वर्ण कहते हैं जैसे -
क ,  म ,  स , व , इ , आ , ए , ओ , औ आदि।

हमने यह तो यह जान लिया वर्ण किसे कहते हैं तो अब जानते हैं कि वर्णमाला क्या है या वर्णमाला  किसे कहते हैं?

 वर्णमाला क्या है या वर्णमाला  किसे कहते हैं?

वर्णों  की  व्यवस्थित रूप में लिखे गए समूह को वर्णमाला कहते हैं दूसरे शब्दों में समस्त वर्णों के मेल या समूह को वर्णमाला कहते हैं।

वर्णमाला दो प्रकार के होते हैं -

• स्वर वर्ण
• व्यंजन वर्ण


स्वर वर्ण क्या है या स्वर वर्ण किसे कहते हैं?

स्वर वर्ण -   जिस वर्ण को बोलते समय हवा स्वतंत्र रूप से मुंह या मुख से बाहर निकलती है उसे स्वर्ण वर्ण कहते हैं। साधारण शब्दों में कहे तो वह वर्ण जिसे उच्चारण करने समय किसी अन्य सहायक वर्ण की आवश्यकता नहीं होती उसे स्वर वर्ण कहते हैं। जैसे अ , आ ,  ए , ओ , उ , ऊ आदि।

आप सोच रहे होंगे कि स्वर वर्ण कितने हैं  तो चलिए जानते हैं  हिंदी में स्वर वर्ण 11 होते हैं जो निम्नलिखित है -

अ            आ            इ         ई               उ             ऊ             ऋ       ए               ऐ            ओ            औ

उपर्युक्त वर्णों को पढ़कर  आपने  यह सोचा होगा कि यहां दो वर्ण नहीं है अं , आ: । यहाँ अं , आ: भी वर्ण है लेकिन वह स्वर वर्ण  की समूह में नहीं रखा गया है।

स्वर वर्ण किसे कहते हैं यह तो जान लिया तो अब हम उनकी मात्राएं को समझते हैं  हिंदी वर्णमाला में 10 मात्राएं होती है जो निम्नलिखित है -


 व्यंजन वर्ण क्या है ? , व्यंजन किसे कहते हैं 

व्यंजन वर्ण - जिस वर्ण को उच्चारण करते समय स्वर वर्णों की सहायता लेनी पड़ती है उसे व्यंजन वर्ण कहते हैं। हिंदी वर्णमाला में कूल 33 व्यंजन वर्ण होते हैं जो नीचे दिया गया है -

     क          ख          ग        घ        ङ
     च           छ          ज       झ        ञ
     ट            ठ          ड        ढ        ण
     त           थ          द         ध        न
     प           फ          ब        भ        म
     य           र           ल        व        श
     ष          स           ह


ऊपर लिखे गए व्यंजन के अलावा और अन्य चार व्यंजन है जिसे संयुक्त व्यंजन वर्ण कहा जाता है क्योंकि यह व्यंजन दो वर्ण मिलकर बने हैं   क्ष ,  त्र  , ज्ञ  ,श्र ।

संयुक्त व्यंजन क्या है को समझने के लिए नीचे दिए गए नीचे दिए गए वर्ण को देखें ताकि आपको समझ में आ जाए  -

      क्   +   ष     =    क्ष
      त्    +   र     =     त्र
      ज्   +   ञ    =    ज्ञ
      श्    +   र     =    श्र

तो आपने सीखा की वर्ण क्या है वर्णमाला क्या है  , स्वर वर्ण क्या है , व्यंजन वर्ण क्या है आदि नीचे दिए गए  नोट को आप याद रखें -

• किसी भाषा की सबसे छोटी इकाई को ही वर्ण कहा जाता है।
वर्णमाला उसे कहा जाता है जिसमें वर्णो का समूह हो।
• वर्ण दो प्रकार के होते हैं स्वर वर्ण और व्यंजन वर्ण वालों।
• वह वर्ण जिसमें उच्चारण करते वक्त ध्वनि में किसी दूसरे वर्ण की सहायता ना लेनी पड़े उससे स्वर वर्ण कहते हैं।
• व्यंजन वर्ण वह है जिसमें किसी दूसरे वर्ण की सहायता लेनी पड़ती है यानी कि स्वर वर्ण की सहायता लेनी पड़ती है वह व्यंजन वर्ण कहलाता है जैसे  -  क + अ = क  , म + अ = म  आदि ।

       उपर्युक्त बातों को पढ़कर आप ने यह समझ लिया की वर्ण किसे कहते हैं ?  वर्णमाला किसे कहते हैं ? वर्ण के कौन-कौन से प्रकार हैं? आप को पढ़कर हमारी यह जानकारी अच्छी लगी वर्ण किसे कहते हैं ? यह पोस्ट को आप अधिक से अधिक लोगो के पास शेयर करें ताकि उसे यह जानकारी मिल सके।  

एक टिप्पणी भेजें (0)
और नया पुराने